गर्भावस्था में केला खाने के फायदे व नुकसान | Pregnancy Me Kela Khana Chahiye Ki Nahi

 Pregnancy Me Kela Khana Chahiye Ki Nahi
IN THIS ARTICLE

प्रेगनेंसी के दौरान भले ही उतार-चढ़ावों से गुजरना पड़े, लेकिन किसी भी महिला के लिए गर्भावस्था कभी न भूलने वाला एक सुखद एहसास होता है। इस एहसास को बनाए रखने के लिए मां और पेट में पल रही नन्ही-सी जान के स्वास्थ्य, खासकर खान-पान पर विशेष ध्यान देना जरूरी होता है। प्रेगनेंसी के समय अन्य पौष्टिक खाद्य पदार्थों के साथ केला एक अहम भूमिका निभा सकता है। मॉमजंक्शन के इस लेख में जानिए कि केला किसी प्रकार गर्भावस्था के लिए लाभकारी हो सकता है। साथ में जानिए कि क्या इसे खाने के क्या कोई नुकसान भी हैं?

क्या गर्भावस्था के दौरान केला खाना अच्छा है? | pregnancy me banana khana chahiye ya nahi

अगर आपके मन में यह दुविधा है कि प्रेग्नेंसी में केला खाएं या नहीं, तो हम आपको बता दें कि प्रेगनेंसी में केला खाना सुरक्षित है। केला पोषक तत्वों से भरपूर होता है, जो गर्भवती महिलाओं के लिए सेहतमंद साबित हो सकता है। एक वैज्ञानिक शोध के अनुसार, गर्भावस्था के दौरान केला सबसे ज्यादा (95.4%) खाए जाने वाले फलों में से एक है (1)

लेख के आगे के भाग में हम आपको केले में मौजूद पोषक तत्वों के बारे में बताएंगे।

केले के पोषक तत्व

नीचे हम आपको बता रहे हैं कि 100 ग्राम केले में कितने पोषक तत्व होते हैं (2)

पोषक तत्व मात्रा प्रति 100 ग्राम
पानी 74.91 ग्राम
एनर्जी 89 केसीएल
प्रोटीन 1.09 ग्राम
टोटल लिपिड (फैट) 0.33 ग्राम
कार्बोहाइड्रेट 22.84 ग्राम
फाइबर 2.6 ग्राम
शुगर 12.23 ग्राम
मिनरल
कैल्शियम 5 मिलीग्राम
आयरन 0.26 मिलीग्राम
मैग्नीशियम 27 मिलीग्राम
फास्फोरस 22 मिलीग्राम
पोटैशियम 358 मिलीग्राम
सोडियम 1 मिलीग्राम
जिंक 0.15 मिलीग्राम
विटामिन
विटामिन सी, टोटल एस्कॉर्बिक एसिड 8.7 मिलीग्राम
थायमिन 0.031 मिलीग्राम
राइबोफ्लेविन 0.073 मिलीग्राम
नायसिन 0.665 मिलीग्राम
विटामिन बी -6 0.367 मिलीग्राम
फोलेट डी एफ ई (Folate, DFE) 20 माइक्रोग्राम
विटामिन बी -12 0.00 माइक्रोग्राम
विटामिन ए, आरएई (Vitamin A, RAE) 3 माइक्रोग्राम
विटामिन ए, आई यू (Vitamin A, IU) 64 आई यू
विटामिन ई (अल्फा-टोकोफेरोल) 0.10 मिलीग्राम
विटामिन डी (डी2 + डी 3) 0.0 माइक्रोग्राम
विटामिन डी 0 आई यू
विटामिन के (फिलोक्विनोन-phylloquinone) 0.5 माइक्रोग्राम
लिपिड
फैटी एसिड, टोटल सैचुरेटेड 0.112 ग्राम
फैटी एसिड, टोटल मोनोसैचुरेटेड 0.032 ग्राम
फैटी एसिड, टोटल पॉलीअनसेचुरेटेड 0.073 ग्राम
फैटी एसिड, टोटल ट्रांस 0.000 ग्राम
कोलेस्ट्रॉल 0 मिलीग्राम
अन्य
कैफीन 0 मिलीग्राम

इस लेख के आगे के भाग में हम आपको प्रेगनेंसी में केला खाने के फायदे बताएंगे।

गर्भावस्था के दौरान केला खाने के स्वास्थ्य लाभ | pregnancy me kela khane ke fayde

इतना तो आप जान गए हैं कि गर्भवती महिला केला खा सकती है, लेकिन क्या आपको पता है कि प्रेगनेंसी में केला खाने से क्या-क्या लाभ हो सकते हैं। अगर नहीं, तो हम आपको उसी की जानकारी दे रहे हैं।

  1. मॉर्निंग सिकनेस – गर्भावस्था के दौरान मॉर्निंग सिकनेस कई महिलाओं को होता है। ऐसे में अगर आप भी उनमें से एक हैं, तो केला आपके लिए उपयोगी हो सकता है। पूरे दिन में भोजन के बीच केला खाने से मॉर्निंग सिकनेस से निजात मिल सकती है (3)
  1. ठंडे फल – अक्सर गर्भवती महिलाओं में मूड स्विंग की शिकायत देखी जाती है। ऐसे में केला खाने से इसमें बदलाव हो सकता है । इसके अलावा, लोगों का यह भी मानना है कि गर्भवती महिला के केला खाने से उनके शिशु का मिजाज ठंडा हो सकता है (4)
  1. पैर के क्रैम्प से राहत – गर्भवती महिलाओं में क्रैम्प यानी ऐंठन की समस्या भी होती है। गर्भवती महिला का वजन ज्यादा होता है और पूरे शरीर का भार उनके पैरों पर होता है, ऐसे में पैरों में ऐंठन होना आम बात है। अगर गर्भावस्था में पैरों के क्रैम्प से छुटकारा पाना है, तो आप रात को सोने से पहले केले का सेवन कर सकती हैं, जिससे इस परेशानी से काफी हद तक राहत मिल सकती है (4)
  1. कब्ज दूर करेगर्भावस्था के दौरान कब्ज की शिकायत होना सामान्य है । ऐसे में अगर फाइबर युक्त आहार को डाइट में शामिल किया जाए, तो इस समस्या से राहत मिल सकती है (5)। इस स्थिति में आप पके हुए केले का सेवन कर सकती हैं, क्योंकि केला फाइबर से समृद्ध होता है, जो कब्ज को दूर करने का काम कर सकता है (6)। इतना ही नहीं केला पाचन क्रिया में भी सुधार का काम करता है (7)
  1. भ्रूण के लिए – गर्भावस्था के दौरान भ्रूण के मस्तिष्क और रीढ़ की हड्डी के विकास के लिए फोलिक एसिड आवश्यक है। इसकी कमी से समय से पहले प्रसव और शिशु में जन्म दोष का खतरा बढ़ सकता है। ऐसे में केले का सेवन फायदेमंद हो सकता है, क्योंकि केला फोलिक एसिड का एक अच्छा स्रोत है (8)
  1. खून की कमी से बचाव – शरीर में आयरन की कमी के कारण गर्भावस्था के दौरान खून की कमी हो सकती है (9)। ऐसे में केले का सेवन लाभकारी हो सकता है, क्योंकि केला आयरन से समृद्ध होता है और शरीर में इसकी पूर्ति केले के जरिए की जा सकती है (10)। हालांकि, गर्भावस्था में एनीमिया के लिए रोजाना केले की मात्रा कितनी लेनी है, इसके लिए डॉक्टर से जरूर परामर्श करें।
  1. रोग-प्रतिरोधक क्षमता के लिए – गर्भवती महिला का इम्यून पावर यानी रोग-प्रतरोधक क्षमता ठीक रहना भी जरूरी है, ताकि वो और गर्भ में पल रहा शिशु संक्रमण और बीमारियों से बचे रहें। ऐसे में केला एक गुणकारी फल साबित हो सकता है, क्योंकि जैसा कि ऊपर दिए गए सूची में आपने देखा होगा कि इसमें विटामिन ए और सी मौजूद होता है (2), जो रोग-प्रतिरोधक क्षमता में सुधार करने में मददगार साबित हो सकता है (11) (12)
  1. ऊर्जा का स्रोत – केले में कई पौष्टिक तत्व जैसे – विटामिन, आयरन व कैल्शियम मौजूद होते हैं, जो एनर्जी बढ़ाने में मददगार साबित हो सकते हैं (2)। गर्भावस्था के दौरान केला एक सेहतमंद स्नैक्स के रूप में लिया जा सकता है (13)

आगे जानिए गर्भावस्था के दौरान एक दिन में कितने केले खाए जा सकते हैं।

गर्भावस्था के दौरान आप एक दिन में कितने केले खा सकती हैं?

आप एक दिन में एक से दो मध्यम आकार के केले का सेवन कर सकती हैं (13)। फिर भी इस बारे में आप एक बार डॉक्टर या विशेषज्ञ की राय जरूर लें।

गर्भावस्था में केला कब खाएं | pregnancy me kela kab khana chahiye

केला पोषक तत्वों से भरपूर फल है, इसलिए इसे गर्भावस्था के किसी भी महीने में खाया जा सकता है। फिर भी गर्भवती महिला और उसके होने वाले शिशु की सुरक्षा के लिए इस बारे में एक बार डॉक्टर की सलाह लेना भी जरूरी है। सभी की गर्भावस्था एक जैसी नहीं होती है, इसलिए शरीर की जरूरत भी अलग-अलग होती है, तो ऐसे में विशेषज्ञ की सलाह लेनी भी जरूरी है।

आगे हम आपको गर्भावस्था के दौरान केले का सेवन करने से होने वाले कुछ दुष्प्रभावों के बारे में भी जानकारी देंगे।

गर्भावस्था के दौरान केले का सेवन करने से कोई दुष्प्रभाव? | pregnancy me kela khane ke nuksan

जैसा कि हमने आपको ऊपर बताया कि प्रेगनेंसी में केला खाना सुरक्षित है, लेकिन किसी भी फल का अत्यधिक सेवन नुकसानदायक भी हो सकता है। इसलिए, हम इसके लिए सावधान करना चाहते हैं।

कुछ लोगों को केले से एलर्जी हो सकती है, जिसका कारण है केले में लैटेक्स नामक तत्व की मौजूदगी (14)। इसलिए, अगर पहले कभी आपको केला खाने से किसी प्रकार की एलर्जी का अनुभव है, तो इसे अपनी डाइट में शामिल न करें या खाने से पहले डॉक्टर या विशेषज्ञ की सलाह लें। इसके अलावा, एक बार डॉक्टर से यह भी पूछें कि आपको कच्चा केला खाने की जरूरत है या पका हुआ।

अगर आप केले का सेवन करते वक्त कुछ सावधानियां बरतेंगे, तो आपको और ज्यादा केले के फायदे होंगे। नीचे हम उन्हीं के बारे में आपको जानकारी दे रहे हैं।

केले का सेवन करते समय बरती जाने वाली सावधानियां

  • कोशिश करें कि आप ऑर्गेनिक केले का सेवन करें।
  • अगर ऑर्गेनिक न मिले, तो हमेशा ताजे और साफ केले खरीदें।
  • कभी भी ज्यादा दिन पुराना या जरूरत से ज्यादा पके या गले केले का सेवन न करें।

आगे जानिए गर्भावस्था के दौरान आप किस-किस तरह से केले का सेवन कर सकते हैं।

गर्भावस्था आहार में केले को शामिल करने के आसान तरीके

वैसे तो जब आपको भूख लगे, तो आप स्नैक्स के तौर पर केले का सेवन कर सकती हैं, लेकिन इसके अलावा भी आप केले को अपने डाइट में शामिल करने के लिए नीचे दिए गए तरीकों को आजमा सकती हैं।

  • आप केले को फ्रूट सलाद के साथ खा सकते हैं।
  • केले की स्मूदी बनाकर भी सेवन कर सकते हैं।
  • आप ओटमील के साथ केला खा सकती हैं।
  • आप केले की आइसक्रीम भी खा सकती हैं।
  • आप केले को सैंडविच में डालकर भी खा सकती हैं।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

क्या गर्भावस्था के दौरान लाल केला अच्छा है?

हां, गर्भावस्था के दौरान लाल केले का सेवन किया जा सकता है। कभी-कभी गर्भावस्था में महिला को पिका (pica syndrome) की समस्या होती है। इस स्थिति में महिला को ऐसी चीजें खाने का मन होता है, जो खाद्य पदार्थ नहीं होते, जैसे – मिट्टी, चॉक (15)। इस स्थिति में लाल केले का सेवन लाभकारी हो सकता है, लेकिन इसका अभी तक कोई ठोस वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है कि यह कितना लाभकारी हो सकता है।

ध्यान रहे कि पीले केले की तरह ही लाल केला पोटैशियम से समृद्ध होता है (16)। ऐसे में जिनको किडनी संबंधित समस्या है, वो लाल केले का सेवन न करें (17)

क्या कच्चा केला गर्भावस्था के दौरान अच्छा है?

कुछ महिलाओं को प्रेगनेंसी के दौरान लैटेक्स से एलर्जी की समस्या भी हो सकती है (18)। ऐसे में कच्चे केले के सेवन से यह एलर्जी बढ़ सकती है (19) (20)। इसलिए, बेहतर होगा कि इस बारे में एक बार अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

क्या गर्भावस्था में कच्चे केले के चिप्स खाना सुरक्षित है?

आप कच्चे केले का चिप्स खा सकती हैं, लेकिन ध्यान रहे कि उसमें ज्यादा तेल न हो और कोशिश करें कि आप घर में बने चिप्स का ही सेवन करें। चिप्स का सेवन कभी-कभी ही करें, वरना यह गैस और एसिडिटी का भी कारण बन सकता है।

क्या केले खाने से लड़का होने की संभावना बढ़ जाती है?

नहीं, यह बस एक मिथक है। गर्भावस्था में केला खाना लड़का होने की संभावना नहीं बढ़ाता (21)

अब आपको प्रेगनेंसी में केला खाना चाहिए या नहीं इस सवाल का जवाब तो इस लेख के जरिए मिल ही गया होगा। केला पौष्टिक तत्वों का खजाना है, इसलिए गर्भावस्था में केला खाना एक सेहतमंद विकल्प हो सकता है। आशा करते हैं कि आपको इस लेख से गर्भावस्था के दौरान केले खाने से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होगी। अगर इसके अलावा भी आपके मन में कोई सवाल या सुझाव हैं, तो नीचे कमेंट बॉक्स में हमसे जरूर साझा करें।

संदर्भ (References):

Was this information helpful?
The following two tabs change content below.

Latest posts by arpita biswas (see all)

arpita biswas

Back to Top